प्रशिक्षित ग्रामीण चिकित्सकों की बैठक हुई संपन्न

प्रशिक्षित ग्रामीण चिकित्सकों की बैठक हुई संपन्न

शमीम अख्तर

केसरिया 12 अगस्त: प्रकाश सिंह सेवा निवृत्त एसआई कढान स्थित आवास पर प्रशिक्षण ग्रामीण चिकित्सक की बैठक हुई, बैठक की अध्यक्षता डाँ सत्येन्द्र कुमार ने की। बैठक को संबोधित करते हुए संजय कुमार ने कहा कि  बिहार के समस्त प्रशिक्षित ग्रामीण चिकित्सकों को सरकार ने नियोजन का झूठा वादा करके अभी तक  फुसलाने का काम किया है । 16000 अनुभवी और प्रशिक्षित ग्रामीण चिकित्सकों को अपमानित करते हुए  अप्रशिक्षित और अनुभवहीन लोगों को ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना-19 जैसी वैश्विक महामारी को रोकने का कार्यभार सौंप दिया गया।  सरकार को यह समझना चाहिए कि यदि एमबीबीएस और एमडी डॉक्टरों के तर्ज पर ग्रामीण चिकित्सक भी अपना क्लीनिक को बंद कर देते तो काफी समस्याएं उत्पन्न होंने लगेंगी, ऐसोसिएशन  मुख्यमंत्री से मिल कर ज्ञापन सौपेगा, मुख्यमंत्री को ग्रामीण चिकित्सकों से किए गए अपने वादे को याद करें और अभिलंब नियुक्ति की अधिसूचना जारी करें नहीं तो बिहार के समस्त ग्रामीण चिकित्सक अगले महीने से चुनाव के बहिष्कार के साथ ही साथ अपने अपने क्षेत्रों में सरकार के विरुद्ध अपना मुहिम तेज कर देंगे । मौके पर डाॅ विनोद कुमार, डाॅ एन के मिश्रा, डाॅ देवेन्द्र प्रसाद, डाॅ युगल किशोर पाठक, डाॅ मिथिलेश कुमार समेत कई लोग उपस्थित थे ।

Next Post

कृष्ण जन्माष्टमी पर छोटे छोटे बच्चे ने मन मोहा 

Wed Aug 12 , 2020
Share on Facebook Tweet it Pin it कृष्ण जन्माष्टमी पर छोटे छोटे बच्चे ने मन मोहा शमीम अख्तर केसरिया 12 […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links