विषाक्त भोजन की घटना पर एक नजर

विषाक्त भोजन की घटना पर एक नजर

सत्येन्द्र कुमार शर्मा, सारण।
मिड डे मील हादसा एक नजर में

16 जुलाई 2013 सारण के मशरक के धर्मासती गंडामन स्कूल में विषाक्त मध्याह्न भोजन से तबीयत बिगड़ी, एक-एक कर 23 बच्चों की मौत हुई।

16 जुलाई 2013 को मृत बच्चा शिवा के पिता अखिलानंद मिश्रा ने प्राथमिकी दर्ज कराई।

20 जुलाई 2013 को छपरा सीजेएम कोर्ट से स्कूल की प्रधानाध्यापिका मीना देवी व अर्जुन राय पर गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया।

23 जुलाई 2013 को मीना देवी को पुलिस ने गिरफ्तार किया।

09 सितंबर 2013 को मीना देवी के पति अर्जुन राय का कोर्ट में सरेंडर किया।

20 अक्टूबर 2013 को सीजेएम कोर्ट में पुलिस ने चार्जशीट सौंपी।

03 सितम्बर 2014 को पटना हाई कोर्ट से मीना देवी की जमानत अस्वीकार कर दिया गया।

09 जनवरी 2015 को छपरा कोर्ट में आरोप गठन किया गया।

07 मई 2016 को छपरा कोर्ट में सफाई साक्ष्य बंद कर दिया गया।

29 अगस्त 2016 को छपरा कोर्ट में मीना देवी दोषी करार दी गई पति अर्जुन की रिहाई का आदेश जारी किया गया।

3 जुलाई 2017 को पटना उच्च न्यायालय से मीना देवी को जमानत मिली।

Next Post

शराब बरामदगी मामला समेत तीन गिरफ्तार

Sat Jul 17 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it शराब बरामदगी मामला समेत तीन गिरफ्तार बबीता, एकमा(सारण)। शनिवार, 17 जुलाई 2021। थाना […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links