सरकारी कार्यों में व्यवधान उत्पन्न करने वालों पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई

सरकारी कार्यों में व्यवधान उत्पन्न करने वालों पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई


मोतिहारी 20 जुलाई- कार्यपालक पदाधिकारी सदर मोतिहारी ने सरकार द्वारा जारी प्रतिबंधों के बावजूद प्रतिबंधित क्षेत्र में सैकड़ों की संख्या में जमा होने व सरकारी कार्यों में व्यवधान उत्पन्न करने वालों पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई करने हेतु नगर थाना में आवेदन दिया गया। उपर्युक्त आवेदन में उन्होंने लिखा कि नन्दलाल प्रसाद कुशवाहा, पिता सकिचंद्र प्रसाद कुशवाहा ग्राम- ढेकहां लक्ष्मण टोला, थाना मुफसिल मोतिहारी के नेतृत्व में राखि देवी, मीना देवी, रूबी देवी, जानकी देवी, सुनिता देवी, रिकू देवी, स्वीटी देवी, प्रतिभा देवी, सुकुन देवी, शुमकुम देवी, कुशुण देवी, रानी देवी, मालती देवी, गीता देवी, गीता देवी, इन्दु देवी एवं अन्य अज्ञात महिलाओं के द्वारा 17.07.2021 को लगभग 10.00 बजे पूर्ण कचहरी चौक से समाहरणालय की ओर जाने वाली सड़क को जाम किया गया था।प्रदर्शनकारियों ने वर्तमान में कोविड-19 को लेकर सरकार द्वारा जारी प्रतिबंध और सामाजिक दूरी आदि का कोई ख्याल नहीं रखा। उनमें अधिकतर लोग गैर मास्क लगाये ही आवागमन बाधित किये हुये थे तथा अपने मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे, जिस कारण समाहरणालय अवस्थित कार्यालयों में कार्यरत कर्मी एवं पदाधिकारियों को भी कार्यालय पहुंचने में अनावश्यक कठिनाई का सामना करना पड़ा। जिससे सरकारी कार्य बाधित हुआ।उन्हें समझाने के उपरांत किसी तरह मार्ग को आवागमन हेतु छोड़ा गया तो उनके द्वारा पुनः आगे बंद कर समाहरणालय के मुख्य द्वार को जाम कर दिया गया। उक्त महिलाओं के अतिरिक्त अज्ञात संकड़ों की संख्या में बिना इजाजत इकट्ठा होकर प्रदर्शन एवं हो-हल्ला कर समाहरणालय कैंपस मे घुस कर सरकारी कार्यों में बाधा उत्पन्न करने का प्रयत्न किया गया। उक्त कार्यक्रम के दौरान उपस्थित महिलाओं को बिहार नवयुवक सेना के संस्थापक अध्यक्ष-सह-पूर्व लोक सभा प्रत्याशी अनिकेत रंजन द्वारा भी प्रदर्शन में सहयोग किया गया।

Next Post

विधि व्यवस्था को लेकर जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने की संयुक्त ब्रीफिंग

Wed Jul 21 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it विधि व्यवस्था को लेकर जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने की संयुक्त ब्रीफिंग मोतिहारी […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links