अनुमंडलीय अस्पताल में ब्लड ट्रांसफ्यूजन प्रशिक्षण का आयोजन   

अनुमंडलीय अस्पताल में ब्लड ट्रांसफ्यूजन प्रशिक्षण का आयोजन

मोतिहारी।पु.च
शुक्रवार को अनुमंडलीय अस्पताल ढाका में नर्सो के लिए  ब्लड ट्रांसफ्यूजन से संबंधित प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।जिसमें अनुमंडलीय अस्पताल उपाधीक्षक डॉ एन के साह, डिस्ट्रिक ऑफिसर फैसलिटी केयर इंडिया, आयुषी राणा, ने रक्तधान के कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा करते हुए सावधानी बरतने के साथ कई तौर तरीकों को बताया। उन्होंने बताया कि ब्लड ट्रांसफ्यूजन रक्त-आधारित उत्पादों को एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के परिसंचरण तंत्र में स्थानांतरित करने की प्रक्रिया है। कुछ स्थितियों में, जैसे कि चोट लगने के कारण अत्यधिक रक्तस्राव होने पर, ब्लड ट्रांसफ्यूजन जीवन-रक्षी हो सकता है, या शल्य-चिकित्सा के दौरान होने वाले रक्त की हानि की आपूर्ति करने के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है। आम बोलचाल की भाषा में इसे खून चढ़ाना कहा जाता है। रक्त दान से प्राप्त लाल रक्त कोशिकाओं, प्लेटलेट्स और प्लाज्मा को किसी व्यक्ति के शरीर में चढ़ाने की प्रक्रिया को ही ब्लड ट्रांसफ्यूजन या रक्ताधान कहा जाता है।ट्रॉमा, खून बहने का विकार या ऑपरेशन के कारण खून अधिक बह जाना इत्यादि परेशानियों के लिए खून चढ़ाने की जरूरत पड़ती है। खून चढ़ाने की जरूरत तब भी पड़ती है जब शरीर खुद किसी कारण से आवश्यकता के अनुसार प्रयाप्त रक्त या रक्त के अन्य घटक बनाने में सक्षम नहीं होता है। खून चढ़ाने के लिए आमतौर पर खून दान करने वाले स्वैच्छिक रक्तदाताओं से एकत्रित किया जाता है। दान किए गये खून की गहन जाँच होती है, ताकि किसी भी तरह के संक्रमण वाले खून को न चढ़ाया जा सके।आयरन, फोलिक एसिड, विटामिन बी12 का प्रतिदिन उपभोग आपके शरीर में खून के स्तर को ठीक बनाए रखने में मदत करता है। साथ ही साथ विटामिन सी का प्रयोग आयरन के अवशोषण में सहायक  होता है। आइए जानते हैं कि हम अपने भोजन में इन पोषक तत्वों का प्रयोग कैसे करें। संतुलित आहार द्वारा शरीर में खून /हीमोग्लोबिन का कमी को पूरा किया जा सकता है। आयरन से भरपूर भोजन इस स्थिति को नियंत्रित करने में सहायता करता है। ताजे फलों,आँवले, अनार, चुकुन्दर का भोजन में प्रयोग कर आयरन की कमी को पूरा कर सकते है।
मौके पर सरिता कुमारी, प्रखंड स्वास्थ प्रबंधक, संजय कुमार,प्रखंड प्रबंधक केयर इंडिया, राजन कुमार, चिकित्सा पदाधिकारी, सोहेल अख्तर, असगर अली, रवि कुमार, रौशन कुमार, और जीएनएम उपस्थित थे l

Next Post

एकमा में सरवर की गड़बड़ी से दाखिल खारिज के सैकड़ों मामले लंबित

Fri Jul 16 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it एकमा में सरवर की गड़बड़ी से दाखिल खारिज के सैकड़ों मामले लंबित बबीता, […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links