युवा समाजसेवियों की टीम द्वारा बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में मास्क व दवाओं का वितरण

युवा समाजसेवियों की टीम द्वारा बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में मास्क व दवाओं का वितरण

मोतिहारी।पु.च
कोरोना महामारी के मामलों में कमी जरूर आई है परन्तु कोरोना खत्म नहीं हुआ है। इस दौरान सावधानी बरतनी बेहद जरूरी है। यह कहना है देवाशीष अग्रहरि एवं दीपक श्रीवास्तव का। युवा समाजसेवियों द्वारा बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में टीम बनाकर जागरूकता के साथ मास्क व दवाओं का वितरण किया जा रहा है । उन्होंने बताया कि अभी का समय बेहद मुश्किल हालात वाला है। एक तरफ कोरोना के कारण विश्व मे मंदी है, हजारों लोगों के रोजगार छीन जाने के कारण कई बुजुर्ग, बीमार गरीबी में जीवन गुजार रहे हैं। कई लोग लाचार, बेसहारा हो सड़कों के किनारे दिखाई पड़ रहे हैं । दूसरे ओर बाढ़ के कारण भी लोगों को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ा ।कोविड 19 की सम्भावित तीसरी लहर से बचाव को दीपक श्रीवास्तव द्वारा टीम बनाकर मोतिहारी से 10 किलोमीटर की दूरी पर रायसिंहा, रामगढ़वा, गच्छपुरा सहित कई गाँवो में 300 से ज्यादा लोगों के बीच मास्क, सैनिटाइजर, आवश्यक दवाओँ का वितरण किया गया। इस अवसर पर घूम घूमकर लोगों के बीच पानी पार कर 18 वर्ष से ऊपर के लोगों से कोविड का टीकाकरण कराए जाने की अपील की। वहीं जिनलोगों ने पहला डोज़ लिया उन्हें दूसरा डोज़ अवश्य लेने के लिए जागरूक किया गया। देवाशीष अग्रहरि ने बताया इस कोरोना काल में उनकी टीम यदि कुछ भी योगदान कर पाते हैं तो ये हमलोगों के लिए बहुत ही खुशी की बात होगी। हमलोगों की पूरी कोशिश है कि हमलोग इस कोरोना काल में लोगों को जागरूक एवं मदद कर सकें ताकि मानवता की सच्ची सेवा हो सके।

Next Post

चूल्हे से निकली चिंगारी से दो घर जलकर राख

Sat Jul 17 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it चूल्हे से निकली चिंगारी से दो घर जलकर राख गजेन्द्र कुमार,दरियापुर,सारण। डेरनी थाना […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links