जिलाधिकारी ने सदर अस्पताल मे कंट्रोलरूम और आइसोलेशन केंद्र का किया निरीक्षण

जिलाधिकारी ने सदर अस्पताल मे कंट्रोलरूम और आइसोलेशन केंद्र का किया निरीक्षण

नितू राय

सहरसा 31जुलाई: जिलाधिकारी ने सदर अस्पताल में बने कंट्रोलरूम एवं आइसोलेशन संटेर का शुक्रवार को निरीक्षण किया। कंट्रोल रूम के निरक्षण के दौरान कहा कि कंट्रोल रूम में आने वाले फोन कॉल को गंभीरता से लिया जाए तथा होम क्वारंटाइन के नियमों का पालन सही तरीके से हो इसे भी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कंट्रोल रूम के अधिकारियों को सतर्क रहने की जरूत है। साथ ही होम आईसोलेशन में रह लोगों को जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ उनका नियमित तौर पर फॉलो- अप करने के निर्देश भी दिए।

चिकित्सकों की तैनाती होगी कंट्रोल रूम में:

जिलाधिकारी कौशल कुमार ने सिविल सर्जन डाक्टर अवधेश कुमार को दिए निर्देश मे कहा कि कंट्रोल रूम मे अब डाक्टर भी करगे कार्य ताकि जो लोग चिकित्सा की जानकारी लेना चाहते हो, उन्हें घर बैठे ही जानकारी मिल सके तथा उन्हें अस्पताल आने की जरूरत नही पड़े। इससे लोगों को कंट्रोल रूम का फायदा मिल सकेगा।

आइसोलेशन संटेर का निरीक्षण :

जिला अधिकारी कौशल कुमार ने जिला अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया और निरीक्षण के बाद सिविल सर्जन डाक्टर अवधेश कुमार को उचित दिशा निर्देश दिए। निरीक्षण में उन्होंने वार्ड की व्यवस्थाओं के बारे में जाना एवं दवाइयां, उपकरण तथा चिकित्सकों की तैनाती के बारे में भी जानकारी ली। जिला अधिकारी कौशल कुमार ने कहा कि कोरोना वायरस से फैलने वाली महामारी को लेकर स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह अलर्ट रहे।
निरीक्षण के दौरान डीडीसी राजेश कुमार सिंह, सिविल सर्जन डाक्टर अवधेश कुमार,डीएस डाक्टर एसपी विशवास स्वास्थ्य विभाग के डीपीएम विनय रंजन, अस्पताल मनैजर अमित कुमार अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

Next Post

सुरक्षित रहकर मनाएं ईद-उल-अज़हा का त्यौहार

Fri Jul 31 , 2020
Share on Facebook Tweet it Pin it सुरक्षित रहकर मनाएं ईद-उल-अज़हा का त्यौहार सहरसा 30 जुलाई : इस वर्ष बकरीद […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links