एकमा में रिविलगंज के युवक की गोली मारकर हत्या

एकमा में रिविलगंज के युवक की गोली मारकर हत्या

मनोज कुमार

एकमा,गुरुवार, 8 अप्रैल 2021  :  बीआरसी के समीप एकमा गांव के एक बगीचा में बुधवार को रिविलगंज थाना के सिरिसिया गांव निवासी अमित कुमार सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। जानकारी के अनुसार अमित कुमार सिंह एकमा में किसी से मिलने आए हुए थे तभी किसी बात पर लोगों से विवाद होने पर उनको गोली मार दी गयी जिससे वे गंभीर रुप से घायल हो गए। ईलाज के लिए पहले उनको एकमा सीएचसी लाया गया जहां से उनकी गंभीर हालत को देख छपरा रेफर किया गया। छपरा में ईलाज के दौरान उनकी मौत होने की बात कही जा रही है। पुलिस द्वारा शव को पोस्टमार्टम के लिए उधर से ही ले जाने की जानकारी मिली है। उक्त घटना की जानकारी मिलने पर एकमा पुलिस घटनास्थल पर पहुंच मामले की जांच पड़ताल के बाद हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी कर रही है। जानकारी मिल रही है कि मृतक आर्केष्ट्रा में साउंड सिस्टम भाड़ा पर चलवाते थे। इसी सिलसिले में किसी से मिलने एकमा आए थे। उनके साथ कुछ अन्य लोगों के भी साथ आने की बात कही जा रही है। इस बारे में पुलिस द्वारा अभी कोई भी जानकारी नही दी गयी है।

उल्लेखनीय है कि एकमा में पिछले दो दिनों के भीतर गोली चलने की यह दूसरी घटना है जिससे लोगों में दहशत फैल गया है। सोमवार को एकमा के एक दुकान से रुपया लूटने का विरोध करने पर दुकानदार को अपराधियों ने गोली मारकर घायल कर दिया है। गोली लगने से घायल होने के बाद भी साहसी दुकानदार ने तीन में से एक अपराधी को खदेड़ कर पकड़ लिया था। मगर इसके बाद उसके अन्य दो साथियों को पुलिस अभी पकड़ नही पायी है। इस घटना की पटना में इलाजरत घायल दुकानदार के बयान पर थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है। इस घटना में गिरफ्तार अपराधी को आर्म्स एक्ट के भी एक अलग मामले में पुलिस द्वारा जेल भेजा गया है।

Next Post

"नशामुक्त भारत अभियान" में आशा फैसिलेटर द्वारा घर-घर अलख जगाने का काम

Thu Apr 8 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it “नशामुक्त भारत अभियान” में आशा फैसिलेटर द्वारा घर-घर अलख जगाने का काम सत्येन्द्र […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links