ताजपुर रोड के निर्माण कार्य की सांसद द्वारा जांच,

ताजपुर रोड के निर्माण कार्य की सांसद द्वारा जांच,

 

गुणवत्ता पर उठा सवाल अभियंता को अल्टीमेटम व क्लास

बबीता, एकमा(सारण)।
शुक्रवार, 16 जुलाई 2021
लंबे समय से गर्दिश में चल रहे व लोगों की चिर- प्रतीक्षित मांग एकमा- ताजपुर सड़क में एकमा से कोहड़गढ़ तक करीब चार किमी दूर सड़क का निर्माण कार्य शुरु भी हुआ तो सामग्री की गुणवत्ता पर सवाल उठ खड़े हुए। वहीं इस सड़क निर्माण को लेकर विभाग की उदासीनता भी सामने आयी तो महाराजगंज के बीजेपी सांसद ने कमर कसी व सीधे पहुंच गए निर्माण कार्य की जांच करने। उक्त सड़क के निर्माण कार्य का जायजा लेने एकमा पहुंचे सांसद ने पाया कि गुरुवार से ही कार्य शुरु हो रहा है। जबकि सांसद के अनुसार फोन पर बातचीत में विभाग के अभियंताओं ने उनसे दो- तीन दिन पहले से ही काम शुरु होने की बात कही थी। इसको लेकर सांसद ने मौके पर मौजूद आरईओ के एक्सक्यूटिव अभियंता हिमांशु शेखर, एसडीओ रामपुकार सिंह व जेई गीता सिंह को जमकर फटकार लगाई। वहीं सांसद ने पाया कि सड़क निर्माण में प्रयुक्त सामग्री को घटिया बताते हुए इसपर आपत्ति भी जताई। उन्होंने अभियंताओं को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि सामग्री को बदलकर गुणवत्तापूर्ण सामग्री लगाई जाय। सांसद ने कहा कि इस सड़क के निर्माण में किसी तरह की कोताही व विलंब बिल्कुल बर्दास्त नही की जाएगी। कहा कि सड़क निर्माण कार्य में आगे से कोई कमी या विलंब हुआ तो वे इसकी शिकायत सीधे सीएम से लेकर मुख्य सचिव तक तो करेंगे ही, बल्कि वे इसको लेकर धरना पर भी बैठ सकते हैं। सांसद के तेवर को देख अभियंताओं ने उन्हें पूरी तरह से आश्वस्त किया कि सड़क का निर्माण कार्य गुणवत्ता पूर्वक करने के साथ- साथ यथाशीघ्र भी पूरा किया जाएगा। मालूम हो कि उक्त सड़क के निर्माण कार्य पर करीब एक साल से ग्रहण लगा हुआ था। करीब चार करोड़ बत्तीस लाख रुपये की लागत से चार किमी लंबी सड़क का निर्णाण किया जाना है। इस दौरान बीजेपी के परमेश्वर सिंह, चैतेन्द्रनाथ सिंह, वीरेंद्र पांडेय, चंद्रशेखर सिंह, विजयशंकर सिंह, प्रमोद सिंह, बंटी ओझा आदि मौजूद रहे।

Next Post

नव पदस्थापित थानाध्यक्ष ने पदभार संभाला

Fri Jul 16 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it नव पदस्थापित थानाध्यक्ष ने पदभार संभाल ———– बबीता, एकमा(सारण)। शुक्रवार, 16 जुलाई 2021 […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links