जिला आपदा प्रबंधन प्रशाखा द्वारा केविवि के प्रशासनिक कार्यालय को चलाने की मिली अनुमति

जिला आपदा प्रबंधन प्रशाखा द्वारा केविवि के प्रशासनिक कार्यालय को चलाने की मिली अनुमति

प्रमोद कुमार

मोतिहारी : महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी द्वारा जिला प्रशासन से कोविड 19 के कारण बंद चल रहे डॉ. भीमराव अम्बेडकर, प्रशासनिक भवन रघुनाथपुर, मोतिहारी में विश्वविद्यालय का प्रशासनिक कार्यालय चलाने की अनुमति की मांग की गई थीl जिसे कुछ शर्तों के साथ जिला आपदा प्रबंधन प्रशाखा, पूर्वी चंपारण, मोतिहारी ने चलाने की अनुमति प्रदान की है।ज्ञातव्य हो कि वैश्विक आपदा कोविड 19 के कारण लॉकडाउन के साथ ही विश्वविद्यालय का प्रशासनिक कार्यालय भी बंद चल रहा हैं। जिससे विश्वविद्यालय का कार्यालयीय सामान्य काम-काज बंद पड़ा था। महात्मा गांधी केविवि का प्रशासनिक कार्य चलता रहे इसके लिए जिला प्रशासन से विश्वविद्यालय प्रशासन ने प्रशासनिक कार्यालय को खोलने की अनुमति मांगी थी जिसे सशर्त खोलने की अनुमति मिल गई है। शर्तो के अनुसार कार्यालय में सभी कर्मचारियों द्वारा सोशल डिस्टेंन्सिंग का शत-प्रतिशत पालन किया जायेगा। कार्यालय का नियमित साफ- सफाई तथा सेनेटाइज किया जाना अनिवार्य होगा। सभी कर्मचारियों को मास्क लगाकर कार्य करना होगा। कार्यालय में प्रतिदिन 33 प्रतिशत से ज्यादा कर्मी उपस्थित नही रहेंगे। साथ ही इससे संबंधित गृह मंत्रालय भारत सरकार के आदेशों का अनुपालन किया जाएगा। इस शर्तो के साथ विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा आदेश जारी किया गया है कि अधिकारियों एवं कर्मचारियों से साप्ताहिक ड्यूटी रोस्टर के अनुसार कार्य लिया जायेगा। यह 23 अप्रैल 2020 से लागू होगा। पिछले दिशा निर्देशों के अनुसार आपातकालीन और आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। अकादमिक गतिविधि ऑनलाइन चलती रहेंगी और लॉकडाउन के अनुपालन में विश्वविद्यालय 03 मई, 2020 तक बंद रहेगा।महात्मा गांधी केविवि के कुलपति प्रो. संजीव कुमार शर्मा ने जिला आपदा प्रबंधन प्रशाखा द्वारा विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन को चलाने की अनुमति प्रदान किए जाने को लेकर प्रसन्नता जाहिर की है और कहा कि इससे विश्वविद्यालय का सामान्य काम-काज सम्पन्न हो सकेगा।

Next Post

चमकी बुखार के रोकथाम के लिए AES रूम का सीएस ने किया उद्घाटन

Sat Apr 25 , 2020
Share on Facebook Tweet it Pin it चमकी बुखार के रोकथाम के लिए AES रूम का सीएस ने किया उद्घाटन […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links