स्वास्थ्य विभाग की राज्य स्तरीय टीम ने आइसोलेशन सेंटर का लिया जायजा

स्वास्थ्य विभाग की राज्य स्तरीय टीम ने आइसोलेशन सेंटर का लिया जायजा

सहरसा 21, जुलाई : सहरसा जिले के कुल 5 आइसोलेशन सेंटर हैं, जिसमें मंगलवार को 4 आइसोलेशन सेंटर का राज्य स्तरीय टीम ने निरीक्षण किया। राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ. परमेश्वर प्रसाद ने आइसोलेशन सेंटर में कोविड-19 के रोगियों के दी जाने वाली समुचित व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने आइसोलेशन सेंटर में बेड, चादर, दवाई, चिकित्सकों, पारा मेडिकल स्टाफ इत्यादि की उपलब्धता की जांच की तथा संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

मरीजों से लिया फीडबैक:

निरीक्षण के दौरान डॉ.परमेश्वर प्रसाद ने आइसोलेशन सेंटर में भर्ती कोविड-19 के मरीजों से दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में फीडबैक लिया। मरीजों ने अस्पताल प्रशासन के द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं से संतुष्टि जताते हुए कहा कि यहां पर मरीजों का विशेष ख्याल रखा जा रहा है तथा सभी सुविधाएं दी जा रही है. साथ ही समय से नाश्ता खाना और चाय भी दी जाती है। चिकित्सक व एएनएम के द्वारा वार्ड में घूम घूम कर मरीजों की हाल चाल भी पूछी जाती है।

जांच रिपोर्ट से डीएम को कराएंगे अवगत:

इस निरीक्षण को लेकर राज्य स्वास्थ समिति के कार्यपालक निदेशक ने एक पत्र लिखकर निरीक्षण दल का गठन किया है, जिसमें सहरसा जिला के निरीक्षण के लिए डॉक्टर परमेश्वर प्रसाद एस०पी०ओ० को नामित किया गया। पत्र में निर्देश दिया गया है कि जिले का भ्रमण कर जिले में संचालित आइसोलेशन सेंटर की व्यवस्था का भौतिक सत्यापन करेंगे तथा अपने पर्यवेक्षक में आवश्यक व्यवस्था को सुदृढ़ कर आएंगे जांच दल द्वारा संबंधित जिला पदाधिकारी से मिलकर आइसोलेशन सेंटर में अपेक्षित सुधार के लिए तथ्यों संज्ञान में लाएंगे । जांच टीम द्वारा विकसित किए गए आईटी टूल्स पर भौतिक सत्यापन का प्रतिवेदन समर्पित किया जाएगा इसके लिए संबंधित पदाधिकारियों को टैब पूर्व में ही उपलब्ध कराया जा चुका है।

दिन-रात अपने कर्तव्य को बखूबी निभा रहे हैं डॉक्टर व अन्य कर्मी:

निरीक्षण के दौरान एसपीओ डॉक्टर परमेश्वर प्रसाद ने आइसोलेशन में कार्यरत चिकित्सकों नर्स व पैरामेडिकल स्टाफ समेत सभी स्वास्थ्य कर्मियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा सभी योद्धा दिन रात मेहनत कर अपने कर्तव्य को बखूबी निभा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग का एक-एक कर्मी कोरोना की लड़ाई में अपनी महत्वपूर्ण सहभागिता सुनिश्चित कर रहे है।

सिविल सर्जन व अन्य कर्मियों से लेगें जानकारी:

निरीक्षण के दौरान डॉ. परमेश्वर प्रसाद वहां मजौदू अन्य पदाधिकारियों से भी आइसोलेशन सेंटर में दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी ली एवं जिन सुविधाओं में कमी पाई गई, उसमें सुधार लाने के लिए निर्देश दिया।

इस मौके पर अस्पताल अधीक्षक डाक्टर एसपी विशवास, डीपीएम विनय रंजन,यूनिसेफ एसएमसी बंनटेश नारयण महेता, मजरूहल हसन, केयर इंडिया के डीटीएल रोहित रैना, केयर इंडिया के डीपीओ डाक्टर शिल्पा बहल, हॉस्पिटल मैनेजर अमित कुमार चंचल, आईडीएसपी के प्रणब कुमार तथा डब्ल्यूएचओ के फील्ड मॉनिटर मोहम्मद फिरदोस आलम उपस्थित थे ।

Next Post

होम क्वारंटाइन में रहकर हीं हराया जा सकता है कोरोना

Tue Jul 21 , 2020
Share on Facebook Tweet it Pin it होम क्वारंटाइन में रहकर हीं हराया जा सकता है कोरोना पूर्णियाँ 21 जुलाई […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links