नल जल योजना की अनियमितताओं की चर्चा आम

नल जल योजना की अनियमितताओं की चर्चा आम

सत्येन्द्र कुमार शर्मा

अन्य योजनाओं में व्याप्त अनियमितताओं की तरह नल जल योजना भी अनियमितता का शिकार हो गई है।
सारण जिले के बनियापुर प्रखंड के सिसई पंचायत के वार्ड 06 मेढ़ुका खुर्द में नल जल योजना में बड़े पैमाने पर अनियमितता की गई है।

नल जल योजना के क्रियान्वयन के लिए ग्रामसभा के सदस्यों को भनक तक नहीं लगी और स्थल का चयन सार्वजनिक के बजाय निजी जमीन का चयन कर लिया गया और उस जमीन में बोरिंग लगा दिया गया। योजना के संचालन की बातों से वार्ड के अधिकांश लोग अनजान रहे।

नल जल योजना का पानी सोमवार से देना शुरू किया लेकिन नलका में बेरोकटोक पानी का बहाव निर्वाध गति से हो रहा है। सार्वजनिक स्थलों पर नलकुप लगाया ही नहीं गया है। अर्थात नलकुप आज भी अधुरा है।नलकुप लगाने के सरकारी मानकों से अधिकांश लाभुक अनभिज्ञ हैं। एक नलकुप की जगह कई नलकुप लगाया गया है।
स्थानीय अधिकारियों से बात करने पर योजना की जानकारी देने से मुंह फेर लेते हैं।
उधर सहवाँ पंचायत द्वारा वार्ड 13 व 2 के वार्ड सदस्यों पर कानूनी कार्रवाई के लिये नोटिस जारी किया गया।

मामले में 3-3 लाख रुपये फंड ट्रांसफर के बाद भी बोरिंग नहीं होने पर मुखिया ने वार्ड सदस्यों पर कारवाई के लिये नोटिस जारी किया।
सारण जिले के इसुआपुर प्रखंड में मुख्यमंत्री निश्चय योजना द्वारा संचालित नल के जल योजना में लापरवाही बरतने वाले वार्ड सदस्यों पर ग्राम पंचायत के मुखिया द्वारा कारवाई की प्रक्रिया शुरु कर दी गई । वहीं प्रखंड के सहवाँ पंचायत में वार्ड संख्या 13 व 2 में नल जल योजना के लिये 3 माह पहले हीं प्रथम किस्त के रुप में 3-3 लाख रुपये की राशि वार्ड सदस्यों के खातों में मुखिया द्वारा भेजने के पश्चात 3 माह बीत जाने के बाद भी प्रथम किस्त की राशि में बोरिंग का कार्य नहीं कराया गया । वहीं ग्राम पंचायत सहवाँ के मुखिया ने वार्ड 13 के वार्ड सदस्य नागेन्द्र सिंह और चाँदपुरा वार्ड 2 की वार्ड सदस्या मोती बेगम को नोटिस जारी कर 2 दिनों के अन्दर बोरिंग कराने का निर्देश मई 2020 को 37/38 जारी किया गया। ग्राम पंचायत सहवाँ के मुखिया मनोज साह के पत्र में ग्राम पंचायत द्वारा दोनों वार्डो में 3 माह पहले हीं फंड ट्रांसफर कर दिया गया और प्रशासनिक स्वीकृति देने के बाद भी वार्ड सदस्यों द्वारा कार्य में रुचि नहीं लिया गया । वहीं 2 दिनों के अन्दर नल जल के बोरिंग का कार्य नहीं हो पाने की स्थिति में वार्ड सदस्यों पर ग्राम पंचायत द्वारा कानूनी कारवाई की प्रक्रिया की जायेगी का उल्लेख कर पत्र अग्रसारित किया गया।
ब्लैंक चेक नहीं दिया तो खाते में नहीं आई नल जल की राशि डीएम से शिकायत का मामला सामने आया है।
गड़खा प्रखंड के कुदरबाधा पंचायत के वार्ड नंबर 5 और 11 के वार्ड सदस्यों ने जिला पदाधिकारी को आवेदन दिया है।दिए आवेदन में उपमुखिया करूणेश सिंह और वार्ड सदस्य संजय सिंह ने कहा है कि वार्ड क्रियान्वयन एवं प्रबंधन समिति के खाते में मुखिया एवं पंचायत सचिव के मिलीभगत से नल जल योजना का राशि हस्तांतरण नहीं किया गया। इस संबंध में डीएम को पहले भी आवेदन दिया गया था। मुखिया पर वार्ड सदस्य और उप मुखिया ने आरोप लगाया कि ब्लैंक चेक मांगी जा रही है। सरकार द्वारा योजना की राशि उपलब्ध होने के बाद भी राशि नही मिलने से काम अधूरा है।मजबूरी में लोग प्रदूषित जल पीने एवं परेशान होने को मजबूर हैं। छायाप्रति पंचायती राज्य पदाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी गड़खा को भी दी गई। इस संबंध में पूछे जाने पर मुखिया ने कहाकि आरोप बेबुनियाद हैं।

Next Post

लाल बहादुर शास्त्री के आदर्शों एवं मूल्यों के अनुरूप ही किसानों की समस्याओं का स्थाई हल

Wed Jan 13 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it लाल बहादुर शास्त्री के आदर्शों एवं मूल्यों के अनुरूप ही किसानों की समस्याओं […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links