शिक्षक नेताओं ने डीईओ को ज्ञापन सौंपा

शिक्षक नेताओं ने डीईओ को ज्ञापन सौंपा

परशुराम सिंह, जलालपुर।
वेब पोर्टल पर शिक्षको की विभिन्न समस्याओं को लेकर जिला शिक्षा पदाधिकारी को प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला सचिव दिनेश सिंह ने अपनी मांग से संबंधित ज्ञापन सौंपा।
वेब पोर्टल पर नियोजित शिक्षकों का विभिन्न समस्याओं को लेकर प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रधान सचिव दिनेश सिंह ,सचिव सुरेंद्र सिंह ने जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय जाकर शिक्षकों के समस्याओं का निराकरण करने के लिए प्रधान सचिव दिनेश सिंह ने एक ज्ञपन दिया । जिसमें मुख्य रुप से बैठ कर यूएन नंबर, इपीएफ नंबर, नाम सुधार इत्यादि का निराकरण करवाएं ।जिनका भी इपीएफ नंबर में गलती था उनको भी सूची बनाकर कर्मचारी को दिया गया। शिक्षकों का पोर्टल पर सर्टिफिकेट लोड नहीं हो रहा था ।अंतिम तिथि थी जिसको लेकर शिक्षकों का काफी भीड़ था। वेब पोर्टल डाउनलोड सर्टिफिकेट से संबंधित शिक्षकों के समस्याओं को आज प्राथमिक शिक्षक संघ के माध्यम से निपटारा करा दिया गया। प्राथमिक संघ के जिला अध्यक्ष ब्रजेश सिंह, प्रधान सचिव दिनेश सिंह , ने शिक्षा पदाधिकारी से आग्रह किया की कुछ शिक्षको का वेबसाइट नहीं खुलने से काफी दीकत हो रही है तो कुछ समय और बढाई जाय की मांग कर रहे थे । सचिव सुरेंद्र सिंह, मीडिया प्रभारी संजय, शिक्षक नेता राजेश मास्टर ने शिक्षकों को आश्वस्त किया कि किसी भी समस्याओं से डरे नहीं ।सत्य परेशान हो सकता है पराजित नहीं हो सकता है ।यदि आपकी कोई भी समस्या हो तो प्राथमिक शिक्षक संघ के सचिव ,अध्यक्ष से संपर्क करें। मौके पर उपस्थित प्रधान सचिव दिनेश सिंह, सचिव सुरेंद्र सिंह, राजेश मास्टर, धनंजय सिंह, अनुज कुमार ,जलालुद्दीन अंसारी, मुन्ना सिंह, संजय मीडिया, जलालपुर प्रखंड के उपसचिव दिलिप सिंह सुरेंद्र राम, रमिता कुमारी ,राजू दास , अमरनाथ, मयंक ,रंजन सिंह, अरविंद सिंह ,गुंजन, संजीव कुमार, संजय कै आदि मौजूद रहे।

Next Post

शिक्षक नेताओं ने जिला शिक्षा कार्यालय में बैठकर समस्याओं का निराकरण कराया

Wed Jul 21 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it शिक्षक नेताओं ने जिला शिक्षा कार्यालय में बैठकर समस्याओं का निराकरण कराया परशुराम […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links