टैम्पू एवं एटीएम गाडी की टक्कर में चार की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत।

टैम्पू एवं एटीएम गाडी की टक्कर में चार की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत।

शहाबुद्दीन अहमद

बेतिया सोमवार 29 जून 20
अभी-अभी एक जबरदस्त दुर्घटना में चार लोगों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई है, संवाददाता को पता चला है कि एटीएम गाड़ी और टेंपू के जबरदस्त टक्कर हुई है, एटीएम गाड़ी वाला एटीएम कैश भाग लेकर फरार हो गया है, घटना के संबंध में पता चला है कि,
लौरिया से बगहा सड़क की ओर जा रहे टैंपु एवं कैस भान के आमने सामने के टक्कर में, टैमपु चालक सहित कुल चार की घटनास्थल पर मौत हुई है,
सुचना पर पहुंची लौरिया पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने दंपती की गंभीर हालत देखकर बेतिया रेफर कर दिया।
जानकारी के अनुसार, चौतरवा थाने के रायबारी महुअवा गाव निवासी ,रवि कुमार श्रीवासतव अपने पत्नी ,पम्मी देबी के साथ अपने दो बेटे एवं एक बेटी के साथ लौरिया से समान खरीद कर वापस अपने गांव रायबारी महुआ जा रहे थे, तभी सिरकहिया धंगडटोली के पास एटीएम कैश भांन गाड़ी से घटना के शिकार हो गये।
मृतक में, रवि श्रीवास्तव के दो बेटे में बड़ा बेटा रिष कुमार उम्र 6साल, बेटी रीतीका उम्र 3साल, एवं छोटा बेटा लक्षय उम्र डेढ़ साल ,एवं टैंपु चालक, दीपक कुमार राय बहुवरी गांव निवासी भी शामिल है ,वहीं घायल में रवि श्रीवास्तव एवं पम्मी श्रीवास्तव का नाम शामिल हैं, वहीं कैस भान मौके से गाड़ी लेकर फरार हो गया ।
इस घटना से आक्रोशीत ग्रामीणो ने सड़क जाम किया है, जहां प्रशासन भी जुटी है ।
जानकारी के अनुसार ,रवि श्रीवास्तव अपने गांव के ही टैमपु लेकर बहन की शादी की तैयारी हेतु खरीदारी करने लौरिया सपरिवार आया था, जहां रवि श्रीवास्तव की बहन का आज कथा मटकोर , तथा कल 30 जून 20 को शादी है ।
वहीं, रवि श्रीवास्तव के तीन मासुम बच्चे की दर्दनाक मौत ने सबको रुला दिया है, शव क्षत विक्षपत है, पुलिस घटनास्थल पर दल बल के साथ उपस्थित है, हालात का जायजा लेने के लिए पुलिस बल सक्रिय नजर आ रही है। पुलिस प्रशासन ने कहा है कि हालात नियंत्रण में है।

Next Post

यूथ कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं के द्वारा डीजल और पेट्रोल के दामों में बढ़ोतरी के विरोध में धरना प्रदर्शन ।

Mon Jun 29 , 2020
Share on Facebook Tweet it Pin it यूथ कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं के द्वारा डीजल और पेट्रोल के दामों में […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links