बेतिया: महादलित टोलों में रहने वाले लाभुकों को खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित करायें: जिलाधिकारी

बेतिया: महादलित टोलों में रहने वाले लाभुकों को खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित करायें: जिलाधिकारी


बेतिया: जिलाधिकारी, कुंदन कुमार ने कहा कि जिले के सभी महादलित टोलों में रहने वाले लाभुकों को खाद्यान्न की उपलब्धता जल्द से जल्द सुनिश्चित करायी जाय। इन टोलों में एक भी पात्र लाभुक छूटने नहीं चाहिए, इसका खास ध्यान रखा जाय। वे आज देर संध्या एनआइसी के सभागार में अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि खाद्यान्न वितरण में घटतौली या अन्य अनियमितता की शिकायत मिलने के उपरांत संबंधित अधिकारियों एवं कर्मियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
समीक्षा के क्रम में जिला कल्याण पदाधिकारी,आशुतोष शरण द्वारा बताया गया कि सभी विकास मित्रों को अलर्ट कर दिया गया है। विकास मित्र लाभुकों को जन वितरण प्रणाली के माध्यम से वितरित किये जा रहे खाद्यान्न का लाभ दिलवाना सुनिश्चित भी कर रहे हैं।
जिलाधिकारी द्वारा कार्यपालक पदाधिकारी, पीएचईडी को निदेश दिया गया कि जिले में जितने भी सार्वजनिक चापाकल हैं, उनको चालू हालत में रखना है। अगर कोई चापाकल खराब है तो उसे अविलंब चालू कराया जाय ताकि गर्मी के मौसम में आमजन को पेयजल हेतु परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े।
कार्यपालक पदाधिकारी, पीएचईडी द्वारा बताया गया कि चापाकलों की मरम्मति करने हेतु 16 समूहों का गठन किया गया है जो चिन्हित किये गये खराब चापाकलों की मरम्मति कर उन्हें चालू कर रहे है। उन्होंने बताया कि चापाकल से संबंधित शिकायतों के निराकरण के लिए जिलास्तर पर एक टाॅल फ्री नंबर-06254-295145 फंक्शनल किया गया है। जिलेवासी इस नंबर पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। दर्ज शिकायत के आधार पर तुरंत मैकेनिक को भेजकर खराब पड़े चापाकल को ठीक करा दिया जायेगा।
इस अवसर पर अपर समहर्ता, नंदकिशोर साह, उप विकास आयुक्त, रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Next Post

बगहा: पीड़ित परिवार को कांग्रेस नेता संजय यादव के सौजन्य से पन्द्रह दिनों का दिया गया राहत सामग्री 

Sat Apr 25 , 2020
Share on Facebook Tweet it Pin it बगहा: पीड़ित परिवार को कांग्रेस नेता संजय यादव के सौजन्य से पन्द्रह दिनों […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links