टीकाकरण केंद्र पर उड़ाई जा रही है सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

टीकाकरण केंद्र पर उड़ाई जा रही है सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

 

वैक्सीन कम उपलब्धता को लेकर ग्रामीणों में दिखा आक्रोश

मोतिहारी।पु.च
आदापुर प्रखंड के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आज मेगा को विजिट टीकाकरण अभियान का आयोजन किया गया जिसमें आज प्रखंड में बड़े पैमाने पर टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा गया था, जिसको देखते हुए प्रखंड क्षेत्र से काफी संख्या में लोग टीकाकरण कराने हेतु पहुंचे हुए थे। लोगों ने बताया कि आज बहुत कम मात्रा में कोरोना की वैक्सीन यहां उपलब्ध है। स्वास्थ्य केंद्र पर लोगों में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को लेकर काफी आक्रोश दिखा, लोगों का कहना है कि आखिर सरकार लक्ष्य रख रही है 6 महीने में छह करोड़ कोरोना वायरस का टीका देना जो कि पूरा होता हुआ नहीं दिख रहा है । कोरोना वायरस का टीका बहुत कम उपलब्ध कराया जा रहा है जिसके कारण वैक्सीनेशन का जो लक्ष्य है वह तो पूरा होता हुआ कहीं नहीं दिख रहा है। आज आदापुर प्रखंड के मिडिल स्कूल के प्रांगण में टीकाकरण केंद्र पर लोगों की लंबी कतार देखी गई जिसमें सेकंड डोज भी दिया जा रहा था और फर्स्ट डोज भी लेकिन फर्स्ट डोज सिर्फ 100 लोगों को देने के लिए ही उपलब्ध था टीकाकरण केंद्र पर खड़े लोगों में काफी आक्रोश देखा गया और उनका कहना था की जब सरकार वैक्सीन उपलब्ध नहीं करवा पा रही है तो टीकाकरण के लिए किस आधार पर बुलाया जा रहा है एक तरफ सरकार जहां यह कह रही है कि जो व्यक्ति कोरोना का टीका नहीं लेगा उसको राशन नहीं दिया जाएगा या फिर उसको यात्रा नहीं करने दिया जाएगा तो आखिर क्या कारण है कि टीकाकरण केंद्र पर वैक्सिन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।वैक्सीनेशन का समय 10:00 बजे से था लेकिन मिडिल स्कूल का गेट नहीं खुलने के कारण वैक्सीनेशन देरी से शुरू हुआ। इस संबंध में पूछने पर संबंधित पदाधिकारियों ने बताया कि सरकारी स्कूल का देखरेख स्कूल के शिक्षक के हाथों में रहता है तो जब तक वह चाबी नहीं भेजेंगे तब तक गेट हम लोग नहीं खोल सकते हैं इसलिए आज देरी हुई देरी से चाबी आने के कारण वैक्सीनेशन भी देरी से शुरू हुआ जिसके कारण लोगों में काफी अफरातफरी मची रही।आदापुर प्रखंड के किसी भी टीकाकरण केंद्र पर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है और न हीं किसी केंद्र पर प्रशासनिक पदाधिकारियों की मौजूदगी देखने को मिल रही है जो कि अपने आप में एक सवाल खड़ा करता है कि वैक्सीनेशन बड़े पैमाने पर पूरे भारत में चलाया जा रहा है लेकिन संबंधित पदाधिकारी जो भी हैं वह क्यों नहीं रह रहे हैं क्योंकि अब वैक्सीनेशन सेंटर पर लोगों की भीड़ जब ज्यादा हो जा रही है जिसके कारण मेडिकल टीम को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है वहीं केंद्र पर हमेशा अफरा-तफरी का माहौल बना रहता है।वैक्सीन के संबंध में जब स्वास्थ्य प्रबंधक से बात की गई तो उन्होंने बताया कि आज 100 डोज़ देने का आदेश था । लेकिन बाद में अत्यधिक भीड़ को देखते हुए जिलाधिकारी से अनुरोध करके 610 डोज उपलब्ध करा दिया गया है। जो सभी को दी जा चुकी है

Next Post

जिलाधिकारी ने बॉर्डर एरिया डेवलपमेंट प्रोग्राम योजना की प्रगति की समीक्षा

Sat Jul 17 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it जिलाधिकारी ने बॉर्डर एरिया डेवलपमेंट प्रोग्राम योजना की प्रगति की समीक्ष   मोतिहारी।पु.च […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links