कुलपति प्रो. संजीव कुमार शर्मा ‘अंतरराष्ट्रीय ग्लोबल प्राइड एक्सीलेंस अवार्ड-2020’ से सम्मानित

कुलपति प्रो. संजीव कुमार शर्मा ‘अंतरराष्ट्रीय ग्लोबल प्राइड एक्सीलेंस अवार्ड-2020’ से सम्मानित

प्रमोद कुमार

मोतिहारी: महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी के  कुलपति प्रो. संजीव कुमार शर्मा को ‘शिक्षा और नवाचार’ के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए ‘अंतरराष्ट्रीय ग्लोबल प्राइड एक्सीलेंस अवार्ड-2020’ से सम्मानित किया गया। यह सम्मान अंतरराष्ट्रीय संस्था विटी गॉसिप एसोसिएशन द्वारा अंतरराष्ट्रीय वर्चुअल अवार्ड सेरेमनी में प्रदान की गई, जो ऑफलाइन मोड में भी महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय के जिला स्कूल स्थित चाणक्य परिसर में आयोजित थी।

विटी गॉसिप एसोसिएशन एक अंतरराष्ट्रीय संस्था है जो बौद्धिक कार्यों से जुड़े लोगों को अपने क्षेत्र में किए गये असाधारण एवं उत्कृष्ट योगदान एवं प्रदर्शन के लिए प्रदान करती है। वर्चुअल अवार्ड सेरेमनी का संचालन विटी गॉसिप से जुड़ी आयशा सिद्दिकी ने की और स्वागत एवं संस्था का परिचय सुप्रिया पाठक द्वारा प्रस्तुत किया गया। अवॉर्ड सेरेमनी से साहित्य एवं संस्कृति की विदुषी अलका भार्गव, इंदौर से जुड़ी हुई थी, जिनके आतिथ्य संरक्षण में यह सम्मान कुलपति प्रो. संजीव कुमार शर्मा को प्रदान किया गया।
अलका भार्गव ने कहा कि कुलपति प्रो. संजीव कुमार शर्मा जैसे विभूति को ‘अंतरराष्ट्रीय ग्लोबल प्राइड एक्सीलेंस अवार्ड-2020’ से सम्मानित कर हम सभी गौरवान्वित है। प्रो. शर्मा संस्कृति, राजनीति, एवं संचार जैसे विषय के प्रकांड विद्वान तो है ही साथ ही उनमें प्रशासनिक कौशल भी अद्भुत है। उनका व्यक्तित्व हमें सिखाता है कि किसी कार्य को करने के लिए समय का इंतजार करने की जरूरत नहीं है बल्कि समय का सम्मान करते हुए अपने कार्यो को निरंतर गतिमान करना चाहिए। यह सम्मान प्रो. शर्मा से सम्मानित हुआ है।

‘शिक्षा एवं नवाचार’ के क्षेत्र में किए गए उत्कृष्ट कार्य के लिए ‘अंतरराष्ट्रीय ग्लोबल प्राइड एक्सीलेंस अवार्ड-2020’ से सम्मानित कुलपति  प्रो. संजीव कुमार शर्मा ने कहा कि यह सम्मान अभी तक के किए गए कार्यों का परिचय है। विश्वविद्यालय स्तर पर जो भी मैंने थोड़ा बहुत किया है वह, यहां के परिश्रमी शिक्षकों, अधिकारियों एवं कर्मचारियों की बदौलत कर पाया हैं। मैंने 40 वर्षों के शैक्षणिक अध्ययन-अध्यापन जीवन में अभी तक जो भी किया है उससे अभी मुझे सन्तुष्टि नहीं मिली है। अभी बहुत कुछ करना शेष है। यह सम्मान मुझे और अधिक अच्छा करने की प्रेरणा देती है। आप सभी की अपेक्षाओं से मेरे दायित्व में वृद्धि हुई है। प्रो. शर्मा ने निर्भीक रहने की सीख देते हुए कहा कि प्रश्न करना जरूरी है और साथ ही उसे संवाद का हिस्सा भी बनाया जाना चाहिए।

भारत में विटी गॉसिप एसोसिएशन संस्था से जुड़ें एवं महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के गांधी एवं शांति अध्ययन विभाग में एसोसिएट प्रो. असलम खान के द्वारा माननीय कुलपति प्रो. संजीव कुमार शर्मा को ‘अंतरराष्ट्रीय ग्लोबल प्राइड एक्सीलेंस अवार्ड-2020’ से सम्मानित किया गया।

ऑफलाइन मोड में कार्यक्रम से विश्वविद्यालय के शिक्षक प्रो. पवनेश कुमार, प्रो. परनवीर सिंह, प्रो. राजेन्द्र सिंह, प्रो. प्रसून दत्त सिंह, प्रो. सुनील महावर, डॉ. प्रशांत कुमार, डॉ. विजय कुमार शर्मा , डॉ. जुगुल किशोर दाधिची , डॉ. अंजनी कुमार श्रीवास्तव, शोधार्थी, विद्यार्थी, अधिकारी गण एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे। धन्यवाद ज्ञापन एसो. प्रो. डॉ. असलम खान द्वारा किया गया।
वर्चुअल माध्यम से अवॉर्ड सेरेमनी कार्यक्रम में डीएसडब्यू प्रो. आनंद प्रकाश, प्रो. आशीष श्रीवास्तव एवं विटी गॉसिप से जुड़े जहीरुद्दीन बाबर सहित भारत, हंगरी, कनाडा, सिंगापुर, फिलीपीन्स, ग्रीस, वियतनाम, जापान आदि 15 देशों के सैकड़ों लोग जुड़े हुए थे।

Next Post

मंडल भाजपा के प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक हुई सम्पन्न

Thu Jan 14 , 2021
Share on Facebook Tweet it Pin it मंडल भाजपा के प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक हुई सम्पन्न मोतिहारी  13 जनवरी  2021 […]

मुख्य संपादक: विकाश कुमार राय

“अपना परिचय देना, सिर्फ अपना नाम बताने तक सीमित नहीं रहता; ये अपनी बातों को शेयर करके और अक्सर फिजिकल कांटैक्ट के जरिये किसी नए इंसान के साथ जुड़ने का तरीका है। किसी अजनबी इंसान के सामने अपना परिचय देना काफी कठिन हो सकता है, क्योंकि आप उस वक़्त पर जो भी कुछ बोलते हैं, वो उस वक़्त की जरूरत पर निर्भर करता है।”

Quick Links